मेरे देश की धरती सोना उगले Mere Desh Ki Dharti Song Lyrics

Mere Desh Ki Dharti Song Lyrics

Mere Desh Ki Dharti Song Lyrics

Mere Desh Ki Dharti Song Lyrics

Song Title : Mere Desh Ki Dharti Sona Ugle
Movie : Upkar (1967)
Singer : Mahendra Kapoor
Music : Kalyanji-Anandji
Lyricist : Gulshan Bawra
Starcast : Manoj Kumar, Asha Parekh

Mere Desh Ki Dharti Song Lyrics in Hindi

मेरे देश की धरती सोना उगले
उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती
 
बैलों के गले में जब घुँघरू
जीवन का राग सुनाते हैं
गम कोसों दूर हो जाता है
खुशियों के कँवल मुसकाते हैं
सुन के रहट की आवाज़ें
यूँ लगे कहीं शहनाई बजे
आते ही मस्त बहारों के
दुल्हन की तरह हर खेत सजे
 
मेरे देश की धरती
सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती..
 
जब चलते हैं इस धरती पे हल
ममता अंगड़ाईयाँ लेती हैं
क्यों ना पूजें इस माटी को
जो जीवन का सुख देती है
इस धरती पे जिसने जनम लिया
उसने ही पाया प्यार तेरा
यहाँ अपना पराया कोई नहीं
है सब पे माँ, उपकार तेरा
 
मेरे देश की धरती
सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती..
 
ये बाग है गौतम नानक का
खिलते हैं अमन के फूल यहाँ
गांधी, सुभाष, टैगोर, तिलक
ऐसे हैं चमन के फूल यहाँ
रंग हरा हरी सिंह नलवे से
रंग लाल है लाल बहादूर से
रंग बना बसन्ती भगत सिंह
रंग अमन का वीर जवाहर से
 
मेरे देश की धरती
सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती..

Mere Desh Ki Dharti Song Lyrics in English

Mere Desh Ki Dharti Sona Ugle 
Ugle Heere Moti
Mere Desh Ki Dharti
 
Bailon Ke Gale Mein Jab Ghunghroo
Jeevan Ka Raag Sunate Hai
Gham Koson Door Ho Jaata Hai
Khushiyon Ke Kanwal Muskaate Hai
Sun Ke Rahat Ki Aawaze
Yoon Lage Kahin Shehnaai Baje
Aate Hi Mast Baaharon Ke
Dulhan Ki Tarah Har Khet Saje
 
Mere Desh Ki Dharti Sona Ugle 
Ugle Heere Moti
Mere Desh Ki Dharti..
 
Jab Chale Hai Is Dharti Pe Hul
Mamta Angdaaiyan Leti Hai
Kyon Na Poojein Is Maati Ko
Jo Jeevan Ka Sukh Deti Hai
Is Dharti Pe Jisne Janam Liya
Usne Hi Paaya Pyar Tera
Yahan Apna Paraya Koi Nahin
Hai Sab Pe Maan Upkaar Tera
 
Mere Desh Ki Dharti Sona Ugle 
Ugle Heere Moti
Mere Desh Ki Dharti..
 
Yeh Baagh Hai Gautam Nanak Ka
Khilte Hai Aman Ke Phool Yahan
Gandhi, Subhash, Tagore, Tilak
Aise Hai Chaman Ke Phool Yahan
Rang Hara Hari Singh Nalwe Se
Rang Laal Hai Laal Bahadur Se
Rang Bana Basanti Bhagat Singh
Rang Aman Ka Veer Jawahar Se
 
Mere Desh Ki Dharti Sona Ugle 
Ugle Heere Moti
Mere Desh Ki Dharti..

Leave a Comment

Your email address will not be published.