Ved Sharma – Shikayat Song Lyrics

Ved Sharma - Shikayat Song Lyrics

Ved Sharma - Shikayat Song Lyrics

Ved Sharma – Shikayat Song Lyrics

Song Name : Shikayat
Singer : Ved Sharma
Music Director : Ved Sharma 
Lyrics by : Harsh Limbachiya

Shikayat Song Lyrics In Hindi

बस खुदा से है इतनी शिकायत
क्यूँ तू मेरा हुआ ही नहीं?
कुछ लम्हों की माँगी थी मोहलत
क्यूँ तू मेरा हुआ ही नहीं?  
 
हाँ, मैं माँगूँ इजाज़त
हाँ, कर के बग़ावत
तू मेरा हुआ ही नहीं
 
मैंने माँगी थी तुझसे वो साँसे
जिनमें बसती हैं साँसे मेरी
बस खुदा से है इतनी शिकायत
क्यूँ तू मेरा हुआ ही नहीं?
 
मुझे ‘गर तेरी याद आए
कैसे किसे हम बताएँ ना?
जी कर भी कैसे जियूँ मैं?
हक़ में नहीं ये हवाएँ
 
फ़ासलें फ़ैसलों की वजह थे
इश्क़ कामिल हुआ ही नहीं
बस खुदा से है इतनी शिकायत
क्यूँ तू मेरा हुआ ही नहीं?
 
मेरा मर्ज़ तू है, दवा भी
मैं हूँ, ये रातें गवाह भी ना
जिन रास्तों पे ख़ुदा ना
मुझको मिला तू वहाँ भी
 
नाम तेरे सफ़र ये किया, पर
हमसफ़र तू हुआ ही नहीं
बस खुदा से है इतनी शिकायत
क्यूँ तू मेरा हुआ ही नहीं?

Shikayat Song Lyrics In English

Bas Khuda Se Itni Shikayat
Kyun Tu Mera Hua Hi Nahi
Kuchh Lamhon Ki Maangi Thi Mohlat
Kyun Tu Mera Hua Hi Nahi

Haan Main Mangun Izazat
Haan Karke Bagawat
Tu Mera Hua Hi Nahi

Maine Maangi Thi Tujshe Wo Saansein
Jinme Basti Hai Saansein Meri

Bas Khuda Se Hai Itni Shikayat
Kyun Tu Mera Hua Hi Nahi

Mujhe Agar Teri Yaad Aaye
Kaise Kise Hum Bataye Haan
Jee Kar Bhi Kaise Jiyun Main
Haq Mein Nahi Hai Yeh Hawayein

Faasle Faislon Ki Wajah The
Ishq Kaamil Hua Hi Nahi

Bas Khuda Se Hai Itni Shikayat
Kyun Tu Mera Hua Hi Nahi

Mera Marz Tu Hai Dawa Bhi
Main Hoon Yeh Raatein Gawah Bhi Haan
Jinn Raaston Pe Khuda Na
Mujhko Mila Tu Wahan Bhi

Naam Tere Safar Yeh Kiya Par
Hum Safar Tu Hua Hi Nahi

Bas Khuda Se Hai Itni Shikayat
Kyun Tu Mera Hua Hi Nahi

Leave a Comment

Your email address will not be published.