Chaha Toh Bahut | Best Song Lyrics | Imtihan 1994

Chaha Toh Bahut | Best Song Lyrics | Imtihan 1994

Chaha Toh Bahut | Best Song Lyrics | Imtihan 1994

Chaha Toh Bahut

Movie:  Imtihan

Released Year: 1994

Artist:    Saif Ali Khan & Raveena Tandon

Singer:  Kumar Sanu, Bela

Composer :       Anu Malik

Lyricist: Faiz Anwar

Chaha Toh Bahut’ Lyrics In English

Chaaha toh bahut na chahe tujhe

Chaahat pe magar koyi jor nahi

Chaaha toh bahut na chahe tujhe

Chaahat pe magar koyi jor nahi

Dil hi toh hai tum pe aa hi gaya

Dil kaa sanam yeh kusur nahi

Chaaha toh bahut

Chaaha toh bahut

Chaaha toh bahut

Chaaha toh bahut na chahe tujhe,

Chaahat pe magar koyi jor nahi

Dil hi toh hai tum pe aa hi gaya,

Dil kaa sanam yeh kusur nahi

Chaaha toh bahut, o chaaha toh bahut

Tera naam hai inn honto pe,

Sine mein hai tasvir teri

Tune mujhko apna mana,

Yeh hai sanam takdir meri

O yeh hai sanam takdir meri

Dil yeh pukare milke sanam

Dil yeh pukare milke sanam,

Honge kabhi abb dur nahi

Chaaha toh bahut na chahe tujhe,

Chaahat pe magar koyi jor nahi

Dil hi toh hai tum pe aa hi gaya,

Dil kaa sanam yeh kusur nahi

Chaaha toh bahut, o chaaha toh bahut

Jane kis tarha woh jite hain

jin kaa koyi dildar nahi

Patthar honge unake dil mein,

Jinko kisi se pyar nahi

O jinko kisi se pyar nahi

Karati naa kaise ikrar tumse

Karati naa kaise ikrar tumse,

Itni bhi ham maghrur nahi

Chaaha toh bahut na chahe tujhe,

Chaahat pe magar koyi jor nahi

Dil hi toh hai tum pe aa hi gaya,

Dil kaa sanam yeh kusur nahi

Chaaha toh bahut na chahe tujhe,

Chaahat pe magar koyi jor nahi

Chaaha toh bahut,

O chaaha toh bahut,

Chaaha toh bahut.

Chaaha To Bahut Lyrics In Hindi

चाहा तो बहुत न चाहें तुझे

चाहत पे मगर कोई जोर नहीं

चाहा तो बहुत न चाहें तुझे

चाहत पे मगर कोई जोर नहीं

दिल ही तो है तुम पे आ ही गया

दिल का सनम ये कुसूर नहीं

चाहा तो बहुत, चाहा तो बहुत

चाहा तो बहुत..

चाहा तो बहुत न चाहें तुझे

चाहत पे मगर कोई जोर नहीं

दिल ही तो है तुम पे आ ही गया

दिल का सनम ये कुसूर नहीं

चाहा तो बहुत

ओ चाहा तो बहुत

तेरा नाम है इन होटो पे

सीने मे है तस्वीर तेरी

तुने मुझको अपना माना

ये है सनम तकदीर मेरी

ओ ये है सनम तकदीर मेरी

दिल ये पुकारे मिलके सनम

दिल ये पुकारे मिलके सनम

होंगे कभी अब दूर नहीं

चाहा तो बहुत न चाहें तुझे

चाहत पे मगर कोई जोर नहीं

दिल ही तो है तुम पे आ ही गया

दिल का सनम ये कुसूर नहीं

चाहा तो बहुत

ओ चाहा तो बहुत

जाने किस तरह वो जीते हैं

जिन का कोई दिलदार नहीं

पत्थर होंगे उनके दिल में

जिन को किसी से प्यार नहीं

ओ जिन को किसी से प्यार नहीं

करती न कैसे इकरार तुमसे

करती न कैसे इकरार तुमसे

इतनी भी हम मगरूर नहीं

चाहा तो बहुत न चाहें तुझे

चाहत पे मगर कोई जोर नहीं

दिल ही तो है तुम पे आ ही गया

दिल का सनम ये कुसूर नहीं

चाहा तो बहुत न चाहे तुझे

चाहत पे मगर कोई जोर नहीं

चाहा तो बहुत

ओ चाहा तो बहुत

चाहा तो बहुत

Click here for more song lyrics

Leave a Comment

Your email address will not be published.