Bheeg Jaunga Lyrics | Best Song – 2021

Bheeg Jaunga Song Lyrics

Bheeg Jaunga Song Lyrics

Bheeg Jaunga Song Lyrics

Song Name : Bheeg Jaunga
Type: Single Song
Star Cast : Stebin Ben, Rubina Dilaik
Singer : Stebin Ben
Music Director : Avvy Sra
Lyrics by : Mukku
Music Label : Orrange Studioz

Bheeg Jaunga Song Lyrics  in Hindi

मैं बेसबरी से
तेरा इंतज़ार करूँ
और जब तू आये
तो तेरे आने से पहले
तेरे आने की खबर
या अल्लाह बारिश लाये

तू है ज़मीन मैं आसमान
मेरा दिल कहे तेरे पास जा
तुझे पा लिया या बाकी है
मर्ज़ी खुदा की बाकी है
इतना ना याद आया करो
मैं सो नहीं पाउँगा

मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा
मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा

मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा
मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा

जितना समंदर गहरा है
उतनी गहराई प्यार में
जो मुकम्मल करदे इश्क़ को
वो खूबी है मेरे यार में

जितना समंदर गहरा है
उतनी गहराई प्यार में
जो मुकम्मल करदे इश्क़ को
वो खूबी है मेरे यार में

तुझसे ही तो मेरे रास्ते

 जीने मरने के वास्ते
तू जो खफा मुझसे हो भी गया
मैं लड़ने खुदा से आ जाऊंगा

मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा
मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा

मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा
मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा

ऐसा कोई लम्हा नहीं
जिसमें कहीं होता नहीं
मैं आशिक़ों की तरह आज कल
तेरे इश्क़ में सोता नहीं

तू हर जगह हर बात में
तू दिन में है तू रात में
तू इक पल भी जुदा
मुझसे हो भी गया
मैं पास तेरे आ जाऊंगा

मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा
मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा

मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा
मैं तेरे इश्क़ की
बारिश में भीग जाऊंगा

 

 

Bheeg Jaunga Song Lyrics in English

Main besabri se
Tera intezar karun
Aur jab tu aaye
Toh tere aane se pehle
Tere ane ki khabar
Ya allah baarish laye

Tu hai zameen main aasmaan
Mera dil kahe tere paas ja
Tujhe paa liye ya baaki hai
Marzi khuda ki baaki hai
Itna na yaad aaya karo
Main so nahi paunga

Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga
Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga

Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga
Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga

Jitna samandar gehra hai
Utni gehrai pyar mein
Jo mukammal karde ishq ko
Woh khubi hai mere yaar mein

Jitna samandar gehra hai
Utni gehrai pyar mein
Jo mukammal karde ishq ko
Woh khubi hai mere yaar mein

Tujhse hi toh mere raaste
Jeene marne ke vaaste
Tu jo khafa mujhse ho bhi gaya
Main ladne khuda se aa jaunga

Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga
Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga

Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga
Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga

Aisa koyi lamha nahi
Jismein kahin hota nahi
Main aashiqon ki tarah aaj kal
Tere ishq mein sota nahi

Tu har jagah har baat mein
Tu din mein hai tu raat mein
Tu ik pal bhi juda
Mujhse ho bhi gaya
Main paas tere aa jaunga

Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga
Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga

Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga
Main tere ishq ki
Baarish mein bheeg jaunga

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.