हमनवा मेरे Humnava Mere song Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal

Humnava Mere song Lyrics

Humnava Mere song Lyrics in Hindi

Humnava Mere song Lyrics 

Song Title: Humnava Mere Lyrics Singer: Jubin Nautiyal

Lyrics: Manoj Muntashir, Rocky Khanna

Music: Rocky-Shiv Music

Label: T-Series


Humnava Mere song Lyrics in English

Kal raaste mein gham mil gaya tha

Lag ke gale main ro diya

Jo sirf mera tha, sirf mera

Maine usse kyon kho diya

Haan woh aakhein jinhe main

Choomta tha bewajah

Pyar mere liye kyon

Unmein baaki na raha


Humnava mere tu hai to meri saasein chale

Bata de kaise main jiyunga tere bina

Humnava mere tu hai to meri saasein chale

Bata de kaise main jiyunga tere bina


Har waqt dil ko jo sataye

Aisi kami hai tu

Main bhi na jaanun yeh

Ke itna kyon laazmi hai tu

Neendein jaake na lautin

Kitni raatein dhal gayin

Itne taare gine ki

Ungliyan bhi jal gayin


Humnava mere tu hai to meri saasein chale

Bata de kaise main jiyunga tere bina

Humnava mere tu hai to meri saasein chale

Bata de kaise main jiyunga tere bina


Tu aakhri aansu oh yaara

Hai aakhri tu gham

Dil ab kahan hai jo dobara

De dein kisi ko hum

Apni shaamon mein hissa

Phir kisi ko na diya

Ishq tere bina bhi

Maine tujhse hi kiya


Humnava mere tu hai to meri saasein chale

Bata de kaise main jiyunga tere bina

Fasle na de ke main hu aasre tere

Bata de kaise main jiyunga tere bina


Aazma raha mujhe kyon

Aa bhi jaa kahin se ab tu

Kaise main jiyunga tere bina

Seene mein jo dhadkanein hain

Tere naam pe chale hain

Kaise main jiyunga tere bina


Humnava mere tu hai to meri saasein chale

Bata de kaise main jiyun

Humnava Mere song Lyrics in Hindi

“बरसों हो गये बिछड़े
अब साथ नहीं हो तुम
फिर ऐसा क्यूँ लगता है
जहाँ मैं हूँ वहीं हो तुम
 
क्या करूँ मैं अपनी उँगलियों का
किसी की भी तस्वीर बनाऊं
तुम्हारी बन जाती है
ये सिर्फ मेरा पागलपन है
या तुम भी मेरे लिए पागल थी”
ओ..

कल रास्ते में गम मिल गया था
लग के गले मैं रो दिया
जो सिर्फ मेरा था सिर्फ मेरा
मैंने उसे क्यूँ खो दिया
 
हाँ वो आँखें जिन्हें मैं
चूमता था बेवजह
प्यार मेरे लिए क्यूँ
उन में बाकि न रहा
हो..
 
हमनवा मेरे
तू है तो मेरी सांसें चले
बता दे कैसे मैं जियूँगा
तेरे बिना

ओ.. हमनवा मेरे
तू है तो मेरी सांसें चले
बता दे कैसे मैं जियूँगा
तेरे बिना
 
हर वक़्त दिल को जो सताए
ऐसी कमी है तू..
मैं भी ना जानू ये
कि इतना क्यूँ लाज़मी है तू
 
नींदें जा के ना लौटी
कितनी रातें ढल गयी
इतने तारे गिने कि
उँगलियाँ भी जल गयी
हो..
 
हमनवा मेरे
तू है तो मेरी सांसें चले
बता दे कैसे मैं जियूँगा
तेरे बिना..


ओ.. हमनवा मेरे
तू है तो मेरी सांसें चले
बता दे कैसे मैं जियूँगा
तेरे बिना..
 
तू आखरी आंसू है यारा
है आखरी तू गम
दिल अब कहाँ है जो दोबारा
दें दें किसी को हम
 
अपनी शामो में हिस्सा
फिर किसी को न दिया
इश्क तेरे बिना भी
मैंने तुझसे ही किया
ओ..
 
हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें चले
बता दे कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना
हो.. फासले ना दे मैं हूँ आसरे तेरे
बता दे कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना
 
आजमा रहा मुझे क्यूँ
आ भी जा कही से तू
कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना
 
सीने में जो धड़कने हैं
तेरे नाम पे चले हैं
कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना
 
“जबाब मिल गया मुझे
मैं तुम्हारी ज़िन्दगी में कहीं नहीं था
फिर भी मैं ही तुम्हारी ज़िन्दगी था
सिर्फ मैं ही तुम्हारे लिये पागल नहीं था
तुम भी”
 
हमनवा मेरे तू है तो
मेरी सांसें चले

Leave a Comment

Your email address will not be published.